पिरामिड ध्यान

पिरामिड के अन्दर या इसके नीचे बैठकर किया जाने वाला ध्यान पिरामिड ध्यान कहलाता है। इससे हमें सामान्य से तीन गुणा अधिक ऊर्जा मिलती है। इस दौरान बहुत से साधकों को मानसिक शांति से लेकर ब्रह्मानन्द प्राप्ति तक की अनुभूति होती है।

जिन लोगों ने पिरामिड ध्यान के साथ कई प्रयोग किए हैं, उनमें से अधिकांश यही कहते हैं कि उन्हें शरीर में विश्रांति की अनुभूति होती है, साथ ही अनावश्यक बाह्य उत्तेजनाओं, असंबध्द विचारों आदि से मुक्ति मिलती है जिस कारण वे गहनतम आन्तरिक स्तरों पर स्वयं को एकाग्र कर पाते हैं। मानव निर्मित पिरामिड के भीतर किए गए अनेक प्रयोगों से यह पता चलता है कि पिरामिड में कई अन्य शक्तियाँ भी हैं यथा फल सब्ज़ियों का संरक्षण करने की सामर्थ्य, रोगों की उपचार करने की क्षमता तथा अशरीरी अनुभव (out of body experiences ) कराने की शक्ति ।

Go to top