Brahmarshi Patrijiध्यान क्या है ?

यदि एक सरल वाक्य में कहें तो ध्यान चित्त की विक्षुब्ध तरंगों के ठहर जाने या पूर्णतया शांत हो जाने का नाम है | यह एक ऐसी अवस्था है जहाँ मन हर प्रकार के विचारों से रहित हो जाता है तथा हमें एक ऐसे प्रवेश द्वार की ओर ले जाता है जहाँ हम वैश्विक ऊर्जा से घिर जाते हैं।ध्यान का अर्थ है अपने मन को रिक्त या शून्य बना लेना। एक बार मन शून्य हो गया तो हमारे भीतर अत्यधिक वैश्विक ऊर्जा व चतुर्दिक व्याप्त सूचनाओं को ग्रहण करने की क्षमता बढ़ जाती है। और अधिक पढ़े...

पिरामिड स्पिरिचुअल सोसाइटीज़ मूवमेंट

पिरामिड स्पिरिचुअल सोसाइटीज़ गैर- धार्मिक, गैर - पंथ, गैर - लाभकारी स्वैच्छिक संगठन है जिसका एकमात्र मिशन एक और सभी के लिए आनापानसति ध्यान, शाकाहार और पिरामिड ऊर्जा का संदेश फैलाना है| पिरामिड स्पिरिचुअल सोसाइटीज़ मूवमेंट (PSSM) पूरी दुनिया में नए युग की आध्यात्मिक क्रांति का एक हिस्सा है| यह एक प्रमुख आंदोलन है - मानवता को हिंसा से अहिंसा की ओर, मांसाहार से शाकाहार की ओर, अंधे धार्मिक विश्वास से वैज्ञानिक प्रयोग और वैज्ञानिक तर्क की ओर, जकड़े हुए भौतिकवाद से समझदार आध्यात्मिकता की ओर ले जाने के लिए ...| और अधिक पढ़ें ...

पिरामिड्स

पिरामिड यह सर्वागीण विकास का प्रतीक है| एक पिरामिड में चार पहलू हैं - खनिज साम्राज्य, वनस्पति साम्राज्य, पशु साम्राज्य और मानव साम्राज्य | वे चार राज्यों का प्रतिनिधित्व करते हैं| पिरामिड के चार पहलू जहाँ एकजुट हो जाएँ, वहाँ सब एक हो जाते हैं| यही आध्यात्मिकता है| और अधिक पढ़ें...

Go to top